ताजा खबर
Home / Tag Archives: Dard bhari shayari

Tag Archives: Dard bhari shayari

कैसे बदल दूँ फितरत मैं ये अपनी

कैसे बदल दूँ फितरत मैं ये अपनी !! मुझे तुम्हे सोचने की आदत सी हो गयी है दिल को कितना भी मना लूं मैं अपने लेकिन काम्भक्त दिल को भी तुझे ना भूलने की आदत सी हो गयी है Kaise badal dun fitrat Mai ye apni Mughe tumhe sochne ki …

Read More »

उसे अच्छा नहीं लगता | Usse accha nahi lagta

जिस  गुलदान  को  तुम  आज   अपना  केहते  हो , उसका फूल  एक  दिन  हमारा  भी  था , वो  जो  अब  तुम  उसके  मुक्तार  हो  तो   सून  लो , उसे अच्छा  नही लगता ,   मेरी  जान  के  हक़दार  हो  तो  सुन  लो , उसे  अच्छा  नहीं  लगता ! वो   जो  …

Read More »

लिखूं कुछ आज यह वक़्त का तकाजा है

लिखूं कुछ आज यह वक़्त का तकाजा है; मेरे दिल का दर्द अभी ताजा-ताजा है; गिर पड़ते हैं मेरे आंसू मेरे ही कागज पर; लगता है कि कलम में स्याही का दर्द ज्यादा है!

Read More »