ताजा खबर
Home / चील की कृतज्ञता | Hindi Story

चील की कृतज्ञता | Hindi Story

jokes-junction-story-4एक दिन जब एक चरवाहा जंगल में भेड़ों को चला रहा था तो उसे एक चील जाल में फसी दिखाई दी चील को दयनीयअवस्था में देख उसका दिल पसीज गया और उसने उसे मुक्त कर दिया । कुछ दिनों बाद वही चरवाहा आराम करने अनजाने में एक ऐसी चट्टान पर जा बैठे, जो ऊंची पहाड़ी के कोने पर जरा सी टिकी हुई थी । तभी एक झपट्टा मारा और उसकी पगड़ी लेकर उड़ गया गुस्से से भरा चरवाहा उसके पीछे भागा । परंतु जैसे ही वह उठा, चट्टान लुढ़कती हुई भीषण आवाज करती गहरीखाई में जा गिरी । यह देखकर चरवाहा समझ गया कि यह वही चील थी जिसे उसने जाल से जाने से मुक्त किया था जाले जाल से मुक्त किया था और उस ने उसकी जान बचाने के लिए कृतज्ञतावस ऐसा किया था ।